नयी पोस्टस

उत्तराखंड को आज गोविंद सिंह जैसे नौजवानों की जरूरत है...

कौन कहता है कि आसमान में सुराख नहीं होता एक पत्थर तो तबीयत से उछालो यारो, दुष्यंत सिंह की ये लाइनें उत्तराखंड के टुंडाचौड़ा ग्राम सभा के लोगों पर फिट बैठती है. इन लोगों ने अपना सालों पुराना 45 दिन में पूरा कर दिखाया. दरअसल टुंडाचौड़ा गांव, तहसील गंगोलीहाट जो कि उत्तराखं... Read more

हमारे गाँव

उत्तराखंड को आज गोविंद सिंह जैसे नौजवानों की जरूरत है...

कौन कहता है कि आसमान में सुराख नहीं होता एक पत्थर तो तबीयत से उछालो यारो, दुष्यंत सिंह की ये लाइनें उत्तराखंड के टुंडाचौड़ा ग्राम सभा के लोगों पर फिट बैठती है. इन लोगों ने अपना सालों पुराना 45 दिन में पूरा कर दिखाया. दरअसल टुंडाचौड़ा गांव,... Read more

हमारी थात

आखिर हिम मंथन पोर्टल लॉन्च करने की ज़रूरत क्यों पड़ी ?

उत्तराखंड राज्य को बने हुए लगभग 20 साल होने वाले हैं. इस राज्य को बनाने के लिए लंबा आंदोलन यहाँ के लोगों द्वारा चलाया गया. लंबे संघर्ष और कई लोगों की शहादत के बाद अलग राज्य बनने का सपना पूरा हुआ. लोगों को भरोसा था कि अलग राज्य बनने के बाद प... Read more

संगमील

आपके सवाल

उत्तराखंड में दो दशकों से व्यवस्था पर जमे हिम पिघलाने का प्रयास

2020 All rights reserved HimManthan, Powered by Mesh Creation